December 8, 2022

आज ही के दिन पैदा हुए थे राजनीति के दो धुरंधर, ऐतिहासिक पलों का गवाह है 25 सितंबर


Historical Events on 25th September: आज 25 सितंबर है. इतिहास के कैलेंडर में अगर भारत के लिहाज से आज के दिन को देखें तो सबसे पहले दो ऐसे नाम सामने आते हैं, जिनका भारतीय राजनीति में अमूल्य योगदान है. जी हां, जाने-माने विचारक, दार्शनिक और भारतीय जनसंघ के सह-संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्म 25 सितंबर 1916 को मथुरा में हुआ था. वहीं,  भारत के पूर्व उप प्रधानमंत्री चौधरी देवी लाल का जन्म 25 सितंबर को ही 1914 में हिसार जिले के तेजाखेड़ा गांव में हुआ था. दोनों भारत की राजनीति में अमर नाम हैं.

इतिहास का दायरा इतने तक सीमित नहीं है. आज की तारीख अपने अंदर और भी कई ऐतिहासिक पलों को समेटे हुए है. आइए आपको एक-एक कर बताते हैं वो खास पल.

  • 1340: 25 सितंबर के दिन ही इंग्लैंड और फ्रांस ने निरस्त्रीकरण संधि पर हस्ताक्षर किए थे.
  • 1654: इंग्लैंड और डेनमार्क ने व्यापार संधि पर हस्ताक्षर किए थे.
  • 1974 : आज ही के दिन भारत की पांचवी पंचवर्षीय योजना पूर्ण हुई थी.
  • 1974: अमेरिका ने नेवादा परीक्षण स्थल पर परमाणु परीक्षण किया था.
  • 1984: मिस्र और जॉर्डन के बीच राजनयिक संबंध फिर से बहाल हुए थे.
  • 1985: अकाली दल ने पंजाब राज्य में चुनाव में जीत दर्ज की थी.
  • 1992: चीन ने लोप नोर, पीआरसी में परमाणु परीक्षण किया.
  • 1914: भारत के पूर्व उप प्रधानमंत्री चौधरी देवी लाल का जन्म हुआ था.
  • 1916: प्रसिद्ध भारतीय विचारक, दार्शनिक और भारतीय जनसंघ के सह-संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्म हुआ था.
  • 2008: चीन ने अंतरिक्ष यान ‘शेनझोओ 7’ का प्रक्षेपण किया था.
  • 2018: महेंद्र सिंह धोनी दुबई में एशिया कप में अफगानिस्तान के खिलाफ मैच में भारतीय क्रिकेट टीम का नेतृत्व करके 200 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में कप्तानी करने वाले पहले भारतीय बने थे.
  • 2020: मशहूर गायक एस. पी. बालासुब्रमण्यम का कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद निधन.
  • 2020: 25 सितंबर के दिन ही राष्ट्रीय आयुर्विज्ञान आयोग (एनएमसी) अस्तित्व में आया, भारतीय आयुर्विज्ञान परिषद की जगह ली. इसे भारत के चिकित्सा शिक्षा संस्थानों और चिकित्सा पेशेवरों के नियमन के लिए नीतियां बनाने का अधिकार है.

ये भी पढ़ें

Storm Fiona: तूफान फिओना ने कनाडा में मचाई तबाही, आंधी-तूफान-बारिश से 5 लाख से ज्यादा घरों में बिजली गुल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *